'विश्व पुलिस खेल' में भारत ने जीते 321 मेडल

07

अमेरिका के लॉस एंजेल्स में 7 अगस्त से 16 अगस्त तक हुए वर्ल्ड पुलिस गेम्स में भारतीय पुलिस के खिलाड़ियों ने नया कीर्तिमान हासिल किया है. इस दौरान भारत ने खेलों में कुल 321 मेडल हासिल किए, जिनमें 151 सिर्फ गोल्ड मेडल ही शामिल हैं.

भारतीय खिलाड़ियों का जलवा

इन खेलों में भुवनेश्वर की बोनिता लाकरा ने 4x100 मीटर की रिले रेस में गोल्ड मेडल जीता, जबकि 100 और 200 मीटर की दौड़ में 2 सिल्वर और 100 मीटर बाधा दौड़ में एक ब्रॉंज मेडल जीता. लॉस एजेंल्स में 9 दिनों तक चले इन पुलिस खेलों में भारत ने एथलेटिक्स में 61 गोल्ड, 52 सिल्वर और 34 ब्रॉंज मेडल जीते. वहीं देश का प्रतिनिधित्व कर रहे अन्य खिलाड़ियों ने रेसलिंग में 9 गोल्ड, जूडो में 3, आर्चरी में 15 गोल्ड, तैराकी में 16 गोल्ड और शूटिंग में 27 गोल्ड मेडल जीते.

भारतीय पुलिस के खाते में आए 321 मेडल

इस तरह भारतीय पुलिस के खाते में कुल 321 मेडल आए, जबकि पिछले साल ये आंकड़ा सिर्फ 157 तक ही जा सका था. यूएस के लॉस एंजेल्स में आयोजित वर्ल्ड पुलिस एंड फायर सर्विसेज गेम्स में बीकानेर के गोल्फर, सीमा सुरक्षा बल के डीआईजी पुष्पेंद्र राठौड़ ने गोल्फ में गोल्ड और सिल्वर मेडल जीता है. राठौड़ के तीन राउंड्स में 77, 71 और 74 स्कोर था. व्यक्तिगत खेलों में उन्होंने नेट स्कोर में गोल्ड मेडल और ग्रॉस स्कोर में सिल्वर मेडल जीता.

डीआईजी राठौड़ पहले भी जीत चुके हैं कई मेडल

इन मेडल्स को जीतने के लिए ही डीआईजी राठौड़ ने इन खेलों में भाग लिया था. वे इससे पूर्व भी अनेक प्रतियोगिताओं में कई मेडल जीत चुके हैं. इस इंटरनेशनल एथलेटिक इवेंट में विभिन्न देशों से 300 गोल्फर्स शामिल हुए थे. लॉस एंजेल्स में खेले गए विश्व पुलिस खेलों में बंगाल पुलिस के कांस्टेबल सुसेन रे ने लंबी कूद स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता. पंजाब पुलिस की ओर से भाग ले रहे दो खिलाड़ियों ने भी इन खेलों में 6 पदक जीते हैं.

पंजाब के खिलाड़ियों का भी जलवा बरकरार

पंजाब सरकार की ओर से जारी विज्ञप्ति के अनुसार, ओलंपियन निशानेबाज अवनीत सिद्धू ने विभिन्न राइफल स्पर्धाओं में एक स्वर्ण, एक रजत और दो कांस्य पदक जीते. सिद्धू पंजाब में पुलिस उपाधीक्षक पद पर कार्यरत हैं. पंजाब पुलिस के सहायक महानिदेशक आशीष कपूर ने टेनिस में एकल और युगल, दोनों वर्गों में स्वर्ण पदक हासिल किए. आशीष पिछले 15 वर्षों से टेनिस के पुरूष एकल में अखिल भारतीय चैंपियन हैं.

झारखंड पुलिस की महिला खिलाड़ी भी किसी से कम नहीं

वर्ल्ड पुलिस गेम्स में जमशेदपुर की मुक्केबाज अरुणा मिश्रा ने मुक्केबाजी में गोल्ड मेडल जीता. उन्होंने कनाडा की मुक्केबाज योनिक फोर्टिन को हराकर लगातार तीसरे वर्ष गोल्ड मेडल जीता. रांची की बेला घोष, सुजाता भकत और जमशेदपुर की अरुणा मिश्रा ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए दो स्वर्ण और एक रजत पदक जीता. ये तीनों खिलाड़ी झारखंड पुलिस में कार्यरत हैं. बेला घोष ने बेंच प्रेस में और अरुणा मिश्रा ने बॉक्सिंग में स्वर्ण पदक जीता था, जबकि सुजाता भकत ने बेंच प्रेस में रजत पदक अपने नाम किया.

उत्तराखंड पुलिस ने किया नाम रोशन

वर्ल्ड पुलिस एंड फायर गेम्स 2017 में उत्तराखंड के खिलाड़ियों ने भी खूब दम दिखाया. उत्तराखंड के तीन खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन करते हुए देश के लिए चार मेडल जीत कर लाए. धावक मुकेश रावत के नाम दो मेडल (रजत और कांस्य) शामिल हैं. बॉडी बिल्डर तेजेंदर सिंह ने भी गोल्ड मेडल जीतकर विदेशी धरती पर तिरंगा लहराया. वहीं मुकेश पाल भी पॉवर लिफ्टिंग में भारत को कांस्य पदक दिलाने में कामयाब रहे. बताते चलें कि इन खेलों में दुनिया के विभिन्न देशों की पुलिस टीम ने भाग लिया था.