फूट-फूटकर रोए वॉर्नर, स्टीव स्मिथ

07

सिडनी. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व उपकप्तान और बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने शनिवार को बॉल टैम्परिंग विवाद पर फैंस से माफी मांगी। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान वॉर्नर ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि 1 साल का बैन हटने के बाद वो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कभी ऑस्ट्रेलिया के लिए खेल पाएंगे। बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के तीन खिलाड़ी कप्तान स्टीव स्मिथ, उपकप्तान डेविड वॉर्नर और बल्लेबाज कैमरन बेनक्राॅफ्ट पर केपटाउन टेस्ट में योजनाबद्ध तरीके से बॉल टैम्परिंग करने का आरोप लगा था। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने मामले में तीनों को दोषी पाया था। स्मिथ और वॉर्नर पर 1-1 साल का बैन लगाया गया, वहीं बैनक्रॉफ्ट को 9 महीने बैन की सजा दी गई।

  1. बॉल टैम्परिंग के लिए शर्मिंदा हूं: वॉर्नर
    - सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर रखी गई कॉन्फ्रेंस में वॉर्नर ने कहा, “इसकी उम्मीद बहुत ही कम है कि मुझे अब कभी अपने देश के लिए खेलने का मौका मिलेगा। मैं इस बात को मान चुका हूं कि ये शायद अब दोबारा नहीं होगा।”
    - “आने वाले हफ्तों और महीनों में मैं जानने की कोशिश करुंगा कि ये सब कैसे हो गया और मैं खुद कौन हूं। इस दौरान में खुद को बदलने के लिए एक्सपर्ट्स की सलाह भी लेता रहूंगा।”
    - कॉन्फ्रेंस के दौरान वॉर्नर ने भावुक होते हुए कहा, “बॉल टैम्परिंग जैसी घटना में शामिल होकर मैंने देश को नीचा दिखाया है। ये एक गलत फैसला था।”
    - “अपने दोस्तों, अपने परिवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ चौथे टेस्ट में खेलता देखकर आज यहां बैठना बेहद कठिन हो गया है। मैं चाहता था कि मैं उस टीम का हिस्सा रहूं।” 
    - वॉर्नर से पूछा गया कि क्या उन्होंने मामले में बैनक्रॉफ्ट का इस्तेमाल किया या नहीं। इस पर वॉर्नर ने कहा कि वे सिर्फ अपने गलत कामों के लिए जिम्मेदार हैं। कॉन्फ्रेंस में वॉर्नर के साथ उनकी पत्नी कैंडिस भी ऑडिटोरियम में ही मौजूद थीं।

    2. तीन दिन में चौथी कॉन्फ्रेंस
    - पिछले तीन दिनों में बॉल टैम्परिंग मामले से जुड़ी ये चौथी प्रेस कॉन्फ्रेंस थी। इससे पहले टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ और बेनक्रॉफ्ट भी कॉन्फ्रेंस में हिस्सा ले चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया लौटने के बाद दोनों ने बॉल टैम्परिंग में अपने रोल को लेकर फैंस से माफी मांगी थी। 
    - वहीं गुरुवार को टीम के कोच डैरेन लेहमैन ने भी घटना की जिम्मेदारी लेते हुए अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। हालांकि उन्हें क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की तरफ से क्लीन चिट दी गई थी। बतौर कोच साउथ अफ्रीका के खिलाफ चौथा टेस्ट उनका आखिरी मैच होगा।


    3. 141 साल में पहली बार बॉल टैम्परिंग केस में बैन
    - टेस्ट क्रिकेट 1877 से खेला जा रहा है। बीते 141 साल में ऐसा पहली बार हुआ है, जब बॉल टैम्परिंग करने पर दो खिलाड़ियों के खेलने पर एक-एक साल का बैन और कप्तानी करने पर दो-दो साल का बैन लगा है। इससे पहले नौ खिलाड़ियों पर लाइफ टाइम बैन लगा था, लेकिन वह मैच फिक्सिंग के आरोपों पर लगा था। इनमें से तीन खिलाड़ियों पर बैन बाद में हटा लिया गया था।
    - सचिन तेंडुलकर पर 2001 में बॉल टैम्परिंग मामले में एक मैच का बैन लगा था। इसे बाद में हटा लिया गया। 2010 में शाहिद आफरीदी पर भी दो मैचों का प्रतिबंध लगा था।

    बॉल टेंपरिंग मामले में कड़े प्रतिबंध के बाद रोते हुए माफी मांगने वाले ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर स्टीव स्मिथ के लिए सहानुभूति बढऩे लगी है। उनके मीडिया के सामने रोते हुए माफी मांगने के बाद कोच डेरेन लेहमन ने भी इस्तीफा दे दिया।ब्रिटिश अखबार 'द टाइम्स' का शीर्षक था, 'डियर ऑस्ट्रेलिया, दैट्स इनफ नाऊ (प्रिय ऑस्ट्रेलिया, अब बहुत हो गया)। यह गेंद से छेड़छाड़ थी, हत्या नहीं। ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वार्न ने सिडनी डेली टेलीग्राफ में लिखा, 'हम सभी इतने आहत और गुस्से में हैं। शायद हम इतने सुनिश्चित नहीं थे कि इस पर कैसे प्रतिक्रिया की जाए। हमने ऐसा कुछ पहले नहीं देखा था लेकिन, अब चीजों को देखा जाए तो उन्होंने जो कुछ अपराध किया, यह आलोचना उससे कहीं ज्यादा दिख रही है।इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वान ने कहा कि स्मिथ और बेनक्राफ्ट अच्छे खिलाड़ी हैं। उन्हें दूसरा मौका मिलना चाहिए और उम्मीद करता हूं कि उन्हें अब चारों तरफ से सही समर्थन मिलेगा। उन्होंने आज जो कुछ किया (माफी मांगी), उसके लिए काफी हिम्मत चाहिए।

    ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर को बॉल टैंपरिंग मामले में दोषी पाए जाने पर ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड ने एक साल का बैन लगा दिया है। बॉल टैंपरिंग वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होते ही फैन्स से लेकर क्रिकेट के दिग्गज इन खिलाड़ियों से खासा नाराज नजर आए। इन दिनों स्मिथ से जुड़ी एक और वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी के साथ वायरल हो रहा है। दरअसल, इस वीडियो में स्मिथ के पिता पीटर स्मिथ क्रिकेट किट और बैग पैक करते नजर आ रहे हैं। जब इस बारे में उनके पिता से पूछा गया तो उन्होंने कहा, ”अगले एक साल तक मेरे बेटे को इस किट बैग की जरूरत नहीं पड़ेगी, इस वजह से मैं इसे पैक कर रहा हूं”। इससे पहले स्मिथ ने गुरुवार को गेंद से छेड़खानी विवाद के लिए सभी से मांफी मांगी। इस दौरान मीडिया से बात करते हुए स्मिथ कई बार रो पड़े। उन्होंने कप्तान होने के नाते इस घटना की पूरी जिम्मेदारी ली और अपने किए पर मांफी मांगी। स्मिथ ने कहा, “मैं माफी मांगता हूं। ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम के कप्तान के रूप में मैं घटना की पूरी जिम्मेदारी स्वीकार करता हूं। मैंने फैसला लेने में बड़ी गलती की और मैं इसके नतीजों को समझ सकता हूं। मैं शर्मिदा हूं और दिल से माफी मांगता हूं।”