दो पहलवानों के समर्थकों में चले लात घूंसे

07

नई दिल्ली। दो बार के ओलंपिक मेडल विजेता सुशील कुमार ने साल 2018 में होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए क्वालीफाई तो कर लिया। सुशील कुमार ने जितेंद्र कुमार को हराकर कॉमनवेल्थ गेम्स के 74किग्रा. वर्ग में जगह पक्की कर ली है। लेकिन इसके बाद जो केडी जाधव स्टेडियम में हुआ उससे लोगों के चेहरे सन्न रह गए।रेसलर सुशील कुमार और प्रवीण राणा के समर्थकों में जमकर मारपीट हुई। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में दोनों पहलवानों के समर्थक एक-दूसरे पर कुर्सी से वार करते नजर आ रहे हैं। हालांकि ये घटना किस वजह से हुई है इस बात की जानकारी अभी नहींं मिल पाई है।वहीं पहलवान सुशील कुमार ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा है कि ये गलत है और स्पोर्ट्स में इस तरह की घटनाओं की कोई जगह नहीं है। कॉमनवेल्थ गेम्स के लिए क्वालीफाई करने के बाद सुशील कुमार ने कहा कि उन्हें हमेशी ही उनके गुरु सतपाल सिंह और बाबा रामदेव से प्रेरणा मिलती रही है। ऐसा नहीं है कि सुशील कुमार पहली बार विवादों में आए हैं, इससे पहले रियो ओलंपिक का टिकट न मिल पाने की वजह से उन्होंने नरसिंह यादव को सुप्रीम कोर्ट में घसीट लिया था। दरअसल रियो ओलंपिक में 74 किग्रा. वर्ग के लिए नरसिंह यादव का चयन हुआ था, लेकिन नरसिंह की जगह सुशील कुमार ने खुद को ओलंपिक में भेजने की पेशकश कर दी। मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा तो नरसिंह यादव के ओलंपिक जाने का रास्ता साफ हो गया था। हालांकि बाद में नरसिंह डोप टेस्ट में फेल हो गए और उन्होंने इस मामले में साजिश का आरोप लगाया था।