सानिया मिर्जा होबार्ट इंटरनेशनल टूर्नामेंट के महिला डबल्स फाइनल में

07

होबार्ट.  2 साल बाद टेनिस कोर्ट पर लौटीं सानिया मिर्जा शुक्रवार को होबार्ट इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट के डबल्स के फाइनल में पहुंच गईं हैं। सानिया-नादिया किचेनॉक ने सेमीफाइनल में स्लोवेनिया की तमारा जिदानसेक और चेक गणराज्य की मैरी बूजकोवा की जोड़ी को सीधे सेटों में 7-6 (3), 6-2 से हराया। अब फाइनल में सानिया-नादिया की जोड़ी का चीन की जैंग-पैंग शुआई से मुकाबला होगा। इससे पहले सानिया ने गुरुवार को अपनी जोड़ीदार के साथ अमेरिकन जोड़ी वेनिया किंग-क्रिस्टिना मैकहाले को 6-2, 4-6, 10-4 से हराया था। 

सानिया ने मां बनने के दो साल बाद इस टूर्नामेंट में वापसी की। उन्होंने अपने पहले डबल्स मैच में जॉर्जिया की ओक्साना कलशनिकोवा और जापान की मियु कातो की जोड़ी को 2-6, 7-6, 10-3 से हराया था। इस भारतीय खिलाड़ी ने महिला डबल्स में तीन और मिक्स्ड डबल्स में भी इतने ही ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट जीते हैं। यह उनका 62वां डब्ल्यूटीए डबल्स फाइनल है। अगर वे टूर्नामेंट जीत लेती हैं तो यह उनका 41वां खिताब होगा।

सानिया ने अक्टूबर 2017 में पिछला टूर्नामेंट खेला था

33 साल की यह भारतीय खिलाड़ी 91 हफ्तों तक डबल्स रैंकिंग में नंबर-1 खिलाड़ी रहीं हैं। उन्होंने आखिरी टूर्नामेंट 2017 में खेला था। तब वे चाइना ओपन के सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गईं थीं। इस भारतीय खिलाड़ी की सर्वश्रेष्ठ सिंगल रैंकिंग 27 है, जो उन्होंने 2007 में हासिल की थी। उनका निकाह 12 अप्रैल 2010 को हैदराबाद में पाकिस्तानी क्रिकेटर शोएब मलिक से हुआ था। अक्टूबर 2018 में सानिया ने बेटे इजहान को जन्म दिया था। इसके बाद से ही वे टेनिस कोर्ट से दूर थीं।