47 साल के हुए राहुल द्रविड़

07

नई दिल्ली: क्रिकेट की दुनिया में द वॉल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ आज 47 साल के हो गए हैं. द्रविड का जन्म 1973 में आज ही के दिन इंदौर में हुआ था. उन्होंने 1996 में लॉर्ड्स के मैदान में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैच के जरिए अपने करियर की शुरआत की थी. बहुत ही कम ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने अपने करियर की शुरुआत क्रिकेट के मक्का कहे जाने वाले ग्राउंड लॉर्ड्स से की हो और राहुल द्रविड उनमें से एक हैं. मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी वाले इस मैच में द्रविड ने 95 रनों की पारी खेलते हुए सबका दिल जीत लिया था.

राहुल द्रविड का करियर

राहुल द्रविड का करियर बेहद शानदार रहा है. द्रविड उन खिलाड़ियों की सूची में शामिल हैं जिन्होंने टेस्ट और वनडे दोनों फॉर्मेट में दस हजार से ज्यादा रन बनाए हों. उन्होंने 164 टेस्ट मैचों में 36 शतक और 63 अर्धशतकों की मदद से 13288 रन बनाए हैं. वहीं अगर वनडे की बात करें तो इस फॉर्मेट में द्रविड़ ने 344 मैच खेलकर 10889 रन बनाए हैं. इसमें 12 शतक और 83 अर्धशतक शामिल हैं.

राहुल द्रविड के रिकॉर्ड

द वॉल यानी राहुल द्रविड के नाम कई खास रिकॉर्ड दर्ज हैं. उन्होंने 301 पारियों में कुल 210 कैच पकड़े. वहीं द्रविड के नाम एक अनोखा रिकॉर्ड भी है. दरअसल द्रविड ने अपने करियर में 31,258 गेंदें खेलीं और इस दौरान उन्होंने 736 घंटे क्रीज पर बिताए. वहीं साल 2004 में उन्हें क्रिकेटर ऑफ द ईयर भी चुना गया.

जब द्रविड़ को आया गुस्सा

वैसे तो राहुल द्रविड़ मैदान पर बहुत कूल दिखाई देते थे लेकिन कई मौकों पर उन्हें गुस्सा करते भी देखा गया. साल 2006 में इंग्लैंड के खिलाफ मुंबई टेस्ट में मिली हार से राहुल द्रविड़ काफी निराश थे. उन्होंने गुस्से में आकर ड्रेसिंग रूम में रखी कुर्सी उठाकर फेंक दी क्योंकि वो मैच जीतते ही इंग्लैंड की टीम ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर कर ली थी.