तोक्यो पैरालंपिक; शानदार समारोह के साथ आगाज़

07

तोक्योः तोक्यो पैरालंपिक खेलों का मंगलवार को शानदार प्रोग्राम के साथ आगाज हुआ जिसमें मुश्किल हालात में पैरा खिलाड़ियों की ऊंची उड़ान भरने के जज्बे को दर्शाया गया. इस शानदार उद्घाटन समारोह का मुख्य चरित्र एक पंख वाला छोटा विमान था जो इस विचार को समझा रहा था कि इंसान के अपने पंख होते हैं, जो साहस जुटाकर हवा की दिशा से मुतासिर हुए बिना कहीं भी पहुंच सकता है. इसके लिए बस पंख को फैलाकर उड़ने की कोशिश करने की जरूरत है. ‘हमारे पास भी पंख है’ को इस बार के पैरालंपिक का थीम बनाया गया है. पैरालंपिक खेलों के ध्वज को नेशनल स्टेडियम में ले जाने से पहले जापान के सम्राट नारुहितो ने लगभग खाली स्टेडियम में खेलों के शुरू होने की घोषणा की. उद्घाटन समारोह में ’पैरा एयरपोर्ट’ ने खींचा दर्शकों का ध्यान समारोह के लिए विविधता और समावेश के प्रतीक के तौर पर ‘पैरा एयरपोर्ट (हवाई अड्डा)’ जैसा मंच तैयार किया गया था. समारोह की शुरुआत एक वीडियो के साथ हुई है जिसमें पैरा खिलाड़ियों की शक्ति को दर्शाया गया है. तोक्यो पैरालंपिक में शामिल 22 खेलों की झलक दिखाने के बाद वीडियो के अंत में प्रकाश की एक रंगीन रेखा दिखाई दी, जो बाद में पैरा हवाई अड्डे के रनवे में बदल गई. वीडियो के खत्म होते ही ‘पैरा एयरपोर्ट’ के कर्मियों की तरह पोशाक में कलाकारों ने रंगारंग कार्यक्रम पेश किया गया, जिसके बाद स्टेडियम के ऊपर आतिशबाजी का शानदार नजारा दिखा. गोला फेंक खिलाड़ी टेक चंद ने भारतीय दल की अगुवाई की इस समारोह में गोला फेंक खिलाड़ी टेक चंद ने भारतीय दल की अगुवाई की. उन्होंने ऊंची कूद के एथलीट मरियप्पन थंगावेलु की जगह ली जो तोक्यो की उड़ान के दौरान कोविड-19 से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण पैरालंपिक खेलों के उद्घाटन समारोह में भारतीय ध्वजवाहक नहीं बन पाए.टेक चंद के अलावा उद्घाटन समारोह में अन्य लोगों में भारत के मिशन प्रमुख गुरशरण सिंह, उप मिशन प्रमुख अरहान बागती, दल के अन्य प्रशासनिक कर्मचारी और एक कोच सत्यनारायण शामिल थे. 54 खिलाड़ी इन खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे पैरालंपिक खेल 57 वर्षों के बाद तोक्यो में फिर से आयोजित हो रहे हैं, जिससे जापान की राजधानी दो बार इन खेलों की मेजबानी करने वाला पहला शहर बन गया है. इन वैश्विक खेलों के इस सत्र में रिकॉर्ड 4403 खिलाड़ी शामिल होंगे. इसका पिछला रिकॉर्ड 4328 खिलाड़ियों के भाग लेने का था जो रियो 2016 खेलों में बना था. तोक्यो पैरालंपिक खेलों में 2550 पुरुष और 1853 महिला खिलाड़ी चुनौती पेश करेंगे. पांच सितंबर तक चलने वाले इन खेलों में भारत का प्रतिनिधित्व 54 खिलाड़ी करेंगे जो देश का अब तक का सबसे बड़ा प्रतिनिधिमंडल है.