मेहनत से बदल दी किस्मत

07

कहते हैं गरीबी कभी प्रतिभा को दबा नहीं सकती है। अगर आपने सच्चे मन और लगन के साथ मेहनत की है तो आपको सफलता जरूर मिलेगी। न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज़ के लिए ऐसी ही एक प्रतिभा का चयन भारतीय टीम में हुआ है जो गरीबी के भंवर से निकल कर अपनी प्रतिभा से भारतीय टीम में चयनित हो गया। मोहम्मद सिराज के पिता पेशे से ऑटो ड्राईवर हैं। हैरदाबाद के क्रिकेटर मोहम्मद सिराज को न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज के लिए टीम इंडिया में जगह मिली है। अब ऑटो ड्राइवर का ये बेटा विराट कोहली और एमएस धोनी जैसे दिग्गजों के साथ खेलता नज़र आएगा।

सिराज को 1 नवंबर को होने वाले पहले मैच में रिटायरमेंट ले रहे फास्ट बॉलर आशीष नेहरा की जगह टीम में शामिल किया गया है। सिराज सबसे पहले 2017 के IPL ऑक्शन में सुर्खियों में आए थे।आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस क्रिकेट ले लोग करोड़ो कमाते हैं उसी क्रिकेट से सिराज की  पहली कमाई महज 500 रुपये हुई थी। बता दें कि 2017 में ही सिराज ने आईपीएल डेब्यू किया है। इस सीजन में उन्हें 2.60 करोड़ रुपए में सनराइजर्स हैदराबाद टीम ने खरीदा था। 

 हैदराबाद के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज ने क्रिकेट में अपनी सफलता का श्रेय भारत की अंडर 19 और ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ को दिया है। साथ ही भारतीय टीम के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को भी उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय दिया है। इसके अलावा भारतीय टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण भी उनकी सफलता के मुख्य कारण रहे हैं। गौरतलब है न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 श्रृंखला के लिए मोहम्मद सिराज को टीम में जगह दी गई है।

टीम में चुने जाने के बाद सिराज ने इस पर खुशी जताई और कहा कि ' मैं आपको बता नहीं सकता कि मैं भरत अरुण सर का कितना एहसानमंद हूं। वो एक बहुत ही अच्छे कोच हैं। पिछले सीजन में वो हैदराबाद की टीम के साथ थे, तब मैंने जाना कि उच्च स्तर पर अच्छी गेंदबाजी करने के लिए आपको किस विविधता की जरुरत होती है। सिराज ने कहा कि उन्होंने मुझे धीमी गेंदों की विविधता के बारे में बताया और ये भी बताया कि नक्कल बाल कैसे करें। जब मैंने आईपीएल खेला तो मुझे इन सब चीजों से काफी फायदा हुआ।

मोहम्मद सिराज ने आगे कहा कि ' आईपीएल के दौरान भुवी (भुवनेश्वर कुमार) भाई ने मेरी काफी मदद की। उन्होंने मुझे काफी सारी चीजों के बारे में बताया कि किस जगह गेंद डालें, कितनी लेंथ पर डालें और अलग-अलग बल्लेबाज को किस तरह गेंदबाजी करें। इसके अलावा द्रविड़ सर ने मुझसे कहा कि मुझे अपनी गेंदबाजी में कुछ भी बदलाव करने की जरुरत नहीं है। उनकी सलाह काफी सीधी सी है, आप वही करो जिससे आपको सफलता मिलती है। उम्मीद है कि भारतीय टीम के लिए खेलते हुए भी मैं यही प्रदर्शन दोहरा पाउंगा।

आपको बता दें मोहम्मद सिराज के घरेलू प्रदर्शन को देखते हुए साल 2017 की आईपीएल नीलामी में सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने उन्हे 2.6 करोड़ रुपए में खरीदा था। इसके बाद वे अचानक सुर्खियों में आ गए थे।