खेलो इंडिया : महाराष्ट्र पदक तालिका में टॉप पर, दिल्ली दूसरे हरियाणा तीसरे नंबर पर

07

मेजबान महाराष्ट्र 59 गोल्ड, 48 सिल्वर और 59 ब्रॉन्ज मेडल के साथ कुल 166 मेडल लेकर टॉप पर बना हुआ है। दिल्ली कुल 115 मेडलों (43 गोल्ड, 31 सिल्वर और 41 ब्रॉन्ज) के साथ दूसरे जबकि हरियाणा कुल 107 मेडल (36 गोल्ड, 34 सिल्वर और 37 ब्रॉन्ज) के साथ तीसरे नंबर पर कायम है। 

कर्नाटक छह गोल्ड मेडल जीतने के बावजूद चौथे नंबर पर बरकरार है। कर्नाटक के अब 25 गोल्ड, 22 सिल्वर और 13 ब्रॉन्ज हो गए हैं जिससे उसके कुल मेडलों की संख्या 60 हो गई है। तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश ने अंक तालिका में स्थानों की अदला बदली की। तमिलनाडु सोमवार को चार गोल्ड जीतते हुए 21 गोल्ड, 29 सिल्वर और 17 ब्रॉन्ज मेडलों के साथ कुल 67 मेडल लेकर पांचवें स्थान पर पहुंच गया है जबकि सोमवार को सिर्फ दो गोल्ड जीतने के कारण यूपी की टीम छठे स्थान पर खिसक गई है। यूपी के खाते में हालांकि तमिलनाडु से अधिक 71 मेडल हैं लेकिन सिल्वर मेडलों के मामले में वह पिछड़ गया है। यूपी के खाते में 21 गोल्ड, 21 सिल्वर और 29 ब्रॉन्ज मेडल है।

वेटलिफ्टिंग: कर्नाटक, दिल्ली को गोल्ड 
कर्नाटक और दिल्ली ने रविवार को इन खेलों के पांचवें दिन वेटलिफ्टिंग में गोल्ड मेडल से खाता खोला। कर्नाटक की अक्षता कमाती और दिल्ली के हर्षित सहरावत ने राज्य के लिए गोल्ड मेडल हासिल किए। पंजाब चार स्वर्ण पदक से मिजोरम और मणिपुर से आगे निकल गया है जिनके 3-3 स्वर्ण हैं। आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और हरियाणा के 1-1 गोल्ड मेडल हो गए हैं। 

सचिन, तूलिका और रितिका ने दिल्ली को दिलाए गोल्ड 
दिल्ली ने  यहां जूडो स्पर्धा में 3 और स्वर्ण से कुल 12 गोल्ड मेडल से तालिका में पहला स्थान हासिल किया। दिल्ली ने अंडर-17 और अंडर-21 वर्ग में 6-6 गोल्ड हासिल किए। जूडो स्पर्धा के अंतिम दिन दिल्ली ने तीन, पंजाब ने दो और हरियाणा, मणिपुर और मेजबान महाराष्ट्र ने 1-1 गोल्ड मेडल जीता। दिल्ली के लिए सचिन मलिक (लड़कों के अंडर-21), तूलिका मान (बालिका अंडर-21) और रितिका दहिया (बालिका अंडर-21) में पहला स्थान हासिल किया।