हमेशा विवादों में रहता है खेल रत्न पुरस्कार

07

राष्ट्रीय खेल पुरस्कार 2020 पाने वाले खिलाड़ियों के नाम 18 अगस्त को नॉमिनेट किए गए है। पुरस्कार के चयन के लिए स्टार क्रिकेटर रोहित शर्मा, पहलवान विनेश फोगाट और महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल सहित पांच खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश की गई है। जबकि अर्जुन पुरस्कार के लिए भारतीय तेज गेंदबाज इशांत शर्मा सहित 29 खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश की गयी है।खेल मंत्रालय की 12 सदस्यीय चयन समिति ने मंगलवार को यह सिफारिश की। टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा और रियो पैरालंपिक के स्वर्ण पदक विजेता ऊंची कूद के एथलीट मरियप्पन थंगवेलु के नाम भी सिफारिश भी देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार के लिये की गयी है। बता दें कि इसमें पहले चार खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश की गयी थी लेकिन बाद में इसमें रानी रामपाल का नाम भी जोड़ दिया गया। 

निशानेबाज हिना संधु ने उठाए सवाल

18 अगस्त को जब खेल पुरस्कार 2020 पाने वाले खिलाड़ियों के नाम की लिस्ट जारी हुई तब निशानेबाज हिना संधु ने इस फैसले पर नाराजगी जताते हुए सवाल खड़े कर दिए। हिना ने 19 अगस्त को अपने ट्विटर अकांउट पर केवल 5 खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश पर सवाल उठाते हुए लिखा, 5 खेल रत्न अवार्ड, आप क्या मजाक कर रहे हैं? ये पहली बार नहीं है जब खेल रत्न पुरूस्कार के चयन पर सवाल खड़े हुए हो। बता दें कि इससे पहले जकार्ता एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पहलवान बजरंग पूनिया ने भी खेल मंत्रालय और पुरस्कार समिति पर गंभीर आरोप  लगाए थे। उनके मुताबिक सरकार ने भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली  और वर्ल्ड चैंपियन भारोत्तोलक मीराबाई चानू को  खेल रत्न पुरस्कार देने का फैसला किया था जिसके बाद बजरंग ने इस फैसले पर आपत्ति जताई थी। उनके मुताबिक खेल रत्न के लिए विराट कोहली से ज्यादा अंक बजरंग के पास थे फिर उन्हें कैसे इस पुरस्कार के लिए नहीं चुना गया। विवादों में हमेशा छाए रहने वाला खेल रत्न पुरस्कार में क्रिकेट खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश करने पर भी सवाल खड़े किए गए है। बता दें कि खेल रत्न पुरस्कार का चयन अंकों के आधार पर किया जाता हैं। क्रिकेट ओलंपिक स्पोर्ट्स में नहीं आता हैं जिसके कारण इस खेल में कोई अंक नहीं होते है। इसी कारण से जब खेल रत्न के लिए विराट कोहली जिनके शून्य अंक थे को खेल पुरस्कार के लिए चुना गया तो बजरंग पुनिया जिनके 80 अंक थे ने इस पर कई सवाल खडे़ कर दिए थे।  

क्रिकेट खिलाड़ी कब-कब हुए खेल रत्न के लिए नामित

तैतीस वर्षीय रोहित खेल रत्न पाने वाले केवल चौथे क्रिकेटर होंगे। उनसे पहले सचिन तेंदुलकर, हाल में संन्यास लेने वाले महेंद्र सिंह धोनी और वर्तमान कप्तान विराट कोहली यह सम्मान हासिल कर चुके हैं। तेंदुलकर पहले भारतीय क्रिकेटर थे जिन्हें 1998 में खेल रत्न पुरस्कार दिया गया था। धोनी को 2007 और कोहली को 2018 में भारोत्तोलक मीराबाई चानू के साथ यह पुरस्कार मिला था। समिति में पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग और पूर्व हॉकी कप्तान सरदार सिंह भी शामिल थे।