सेमीफाइनल में पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलना होगा : कप्तान रानी

07

वैंकुवर: भारतीय महिला हाकी टीम की कप्तान रानी ने आज कहा कि अगर उनकी टीम को महिला हाकी विश्व लीग राउंड दो में बेलारूस के खिलाफ सेमीफाइनल मैच जीतना है तो उसे पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलना होगा। भारतीय टीम पेनल्टी कार्नर हासिल करने में तो सफल रही है लेकिन वह उन्हें गोल में तब्दील करने में करने में नाकाम रही है। लीग चरण में बेलारूस के खिलाफ मैच में उसने 5 पेनल्टी कार्नर हासिल किये थे लेकिन उसका एकमात्र गोल मैदानी था। 

रानी ने कहा कि यह विभाग हमारे लिए चिंता का विषय है। हमें सेमीफाइनल में पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलना होगा। हम अभ्यास सत्र में पेनल्टी कार्नर को अतिरिक्त समय दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम बेलारूस के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने के लिये आश्वस्त हैं। हमारी टीम मजबूत है और हमें उन्हें हराने के लिये उनके प्रत्येक खिलाड़ी को बांधे रखना होगा और इसके अलावा स्कोरिंग विशेषकर पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलने पर भी ध्यान देना होगा। भारत लीग चरण में उरूग्वे को पेनल्टी शूटआउट में 4-2 से और बेलारूस को 1-0 से हराकर अपने पूल में शीर्ष पर रहा था। बेलारूस ने कल क्वालीफायर में कनाडा को 4-3 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनायी थी।