महिला हॉकी टीम पहली बार ओलंपिक सेमीफाइनल में

07

नयी दिल्ली। महिला हॉकी टीम के पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद भारतीय खेल समुदाय ने इसे देश की हॉकी के लिये स्वर्णिम पल करार दिया। भारतीय पुरुष टीम के 49 वर्ष बाद ओलंपिक सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद सोमवार को महिला टीम ने आस्ट्रेलिया की विश्व में नंबर दो टीम को 1-0 से हराकर अंतिम चार में जगह बनायी। पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान वीरेन रासकुइन्हा ने इसे स्वर्णिम पल करार देते हुए कहा, ‘‘भारतीयों ने जिस तरह से अपने गोल का बचाव किया उससे काफी प्रभावित हूं। उन्होंने केवल बचाव ही नहीं किया उन्होंने बढ़त मजबूत करने की भी कोशिश की। उन्होंने आस्ट्रेलियाई सर्किल में घुसने में हिचकिचाहट नहीं दिखायी।’’ ड्रैगफ्लिकर गुरजीत कौर ने 22वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर गोल किया जो बाद में निर्णायक साबित हुआ। रासकुइन्हा ने कहा, ‘‘दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक के खिलाफ गोल करना शानदार है। वह अपनी सर्वश्रेष्ठ फार्म में नहीं थी। भाग्य ने भी साथ दिया लेकिन मायने यह रखता है कि भारत के खाते में गोल जुड़ गया। भारत सेमीफाइनल में बुधवार को अर्जेंटीना का सामना करेगा। खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने टीम को बधाई देते हुए ट्वीट किया, ‘‘शानदार प्रदर्शन। महिला हॉकी टीम हर कदम पर इतिहास रच रही है। आस्ट्रेलिया को हराकर हम पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंच गये हैं। ’’ पूर्व खेल मंत्री किरेन रीजीजू ने कहा, ‘‘भारत का सपना सच हो रहा है। हमारी महिला हॉकी टीम ने आस्ट्रेलिया को हराया। भारत की पुरुष और महिला टीम तोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुंच गयी है। मेरे पास अपनी खुशी व्यक्त करने के लिये शब्द नहीं हैं। ’’ प्रायोजन के जरिये हॉकी टीमों का समर्थन करने में सबसे आगे रहे ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा, ‘‘भारतीय महिला हॉकी टीम को बधाई। टीम ने तोक्यो 2020 के क्वार्टर फाइनल में आस्ट्रेलिया पर जोरदार जीत दर्ज की। टीम अपनी जीत का सिलसिला जारी रखे और देश का नाम रोशन करे। टीम को शुभकामनाएं।’’ अपने जमाने के दिग्गज हॉकी खिलाड़ी और पूर्व कप्तान धनराज पिल्लै ने कहा कि टीम ने अपनी वास्तविक क्षमता दिखायी। धनराज ने ट्वीट किया, ‘‘आस्ट्रेलिया के खिलाफ इस जीत से पता चलता है कि भारतीय महिलाएं क्या करने में सक्षम हैं। पदक से एक कदम दूर और भरोसे की लंबी छलांग। पूरी टीम और कोचिंग स्टाफ का काम सराहनीय।’’ उन्होंने आगे लिखा, ‘‘भारत को आप पर गर्व है और भारत का प्रत्येक ध्वज इस जीत का जश्न मना रहा है। सेमीफाइनल के लिये शुभकामनाएं। स्वयं पर विश्वास रखो। ’’ एथेंस ओलंपिक खेलों के रजत पदक विजेता निशानेबाज और पूर्व खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने कहा, ‘‘भारतीय महिला हॉकी टीम को ओलंपिक सेमीफाइनल में पहुंचने पर बधाई। आपने भारत को गौरवान्वित किया है। अगले मैच के लिये शुभकामनाएं। ’’ भारत के ओलंपिक में एकमात्र व्यक्तिगत स्वर्ण पदक विजेता अभिनव बिंद्रा ने ट्वीट किया, ‘‘अद्भुत सुबह। अपनी महिला हॉकी टीम पर बहुत गर्व है। जिस तरह से खेल हमें एकजुट करता है, वैसा कुछ और नहीं करता।’’ रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक, बिलियर्ड्स और स्नूकर में कई बार के विश्व चैंपियन पंकज आडवाणी, भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री, पूर्व क्रिकेटर वीवीएस लक्ष्मण और भारतीय क्रिकेट बोर्ड के सचिव जय शाह ने भी महिला हॉकी टीम को बधाई दी।