भारतीय हॉकी टीम के 6 खिलाड़ी कोरोना वायरस की चपेट में

07

नई दिल्ली. बेंगलुरु में हॉकी कैंप के लिए पहुंची भारतीय हॉकी टीम  कोरोना वायरस की चपेट में आती दिख रही है, उसके 6 खिलाड़ी इस महामारी की चपेट में आ गए हैं. हालातों को देखते हुए अब ऐसा माना जा रहा है कि 20 अगस्त से शुरू होने वाले हॉकी कैंप में देरी हो सकती है.. स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने सोमवार को जानकारी दी कि टीम के 6 खिलाड़ी कोरोना वायरस की चपेट में आ गए हैं. स्ट्राइकर मनदीप सिंह भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. पिछले हफ्ते कप्तान मनदीप समेत कुल 5 खिलाड़ी इस वायरस की चपेट में आ गए थे.

मौजूदा हालात में हॉकी कैंप टलेगा
बेंगलुरु में लगातार कोरोना बढ़ता जा रहा है और हॉकी टीम  के 6 खिलाड़ी भी इस महामारी की चपेट में हैं. ऐसे में अब कई दिग्गज खिलाड़ी इस कैंप के आयोजन पर सवाल उठा रहे हैं. भारत के पूर्व हॉकी कप्तान जफर इकबाल ने कहा कि मौजूदा हालात में हॉकी कैंप से बचना चाहिए, इस वक्त हॉकी कैंप के लिए जल्दबाजी नहीं होनी चाहिए.जफर इकबाल ने आगे कहा, 'ऑस्ट्रेलिया जैसी दूसरी टीमें टूर्नामेंट से 10 या 15 दिन पहले कैंप लगाने का विचार कर रही हैं. बाकी खिलाड़ियों को खुद ही सबकुछ करना होगा. कोच भी उन्हें बता रहे हैं कि उन्हें घर पर कैसे फिट रहना है और उन्हें कितनी रनिंग और प्रैक्टिस की जरूरत है.'जफर इकबाल ने आगे कहा कि वो मौजूदा हालात में हॉकी कैंप के पक्ष में कतई नहीं हैं. इस समय महामारी के हालात को देखते हुए ही कोई फैसला लेना चाहिए.

'कैंप का आयोजन समझदारी भरा फैसला नहीं'
भारत के पूर्व हॉकी गोलकीपर एड्रियन डीसूजा ने बेंगलुरु में खिलाड़ियों को जमा करने के फैसले का थोड़ा बचाव किया. उन्होंने कहा, 'मैं ये नहीं कह सकता कि समझदारी भरा फैसला था या नहीं. लेकिन मेरा मानना है कि SAI ने जरूर कई मुद्दों पर विचार करने के बाद ही खिलाड़ियों को बेंगलुरु बुलाया होगा.' डीसूजा ने ये माना कि ऐसे समय में हॉकी कैंप का आयोजन काफी जोखिम भरा फैसला हो सकता है. उनके मुताबिक खिलाड़ी इस वायरस की चपेट में आ सकते हैं.

ये 6 खिलाड़ी हैं कोरोना की चपेट में
बता दें 7 अगस्त को मनप्रीत सिंह, सुरेंद्र कुमरा, वरुम कुमार, जसकरण सिंह और कृष्ण पाठक कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे. इन सभी खिलाड़ियों में कोरोना के इतने लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं. खिलाड़ियों को SAI के नेशनल सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में रखा गया है. मनदीप सिंह के अंदर कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं.