2018 में भारतीय क्रिकेट के लिए चुनौती

07

 2017 में 37 अंतरास्ट्रीय (टेस्ट,वनडे,टी-20) जीत के साथ भारतीय टीम ने वर्ष को श्रीलंका के खिलाफ विजयी रथ के साथ समाप्त किया है। लेकिन यह कारवां यही नहीं थमता, नए साल के साथ ही भारतीय टीम के सामने कुछ नए लक्ष्य और चुनौतियां प्रस्तुत हुई है, जिसमें अब यह देखने होगा कि भारतीय टीम किस प्रकार इनसे पार पाती है।

आपको बता दें साल के आरम्भ में ही भारतीय टीम, दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाली श्रृंखला के लिए अफ्रीका प्रस्थान चुकी है। भारतीय टीम इस श्रृंखला में तीन टेस्ट, छह वनडे और 3 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाली है।

दरअसल, इस साल सिर्फ दक्षिण अफ्रीका ही नहीं बल्कि भारतीय टीम को इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के कठिन विदेशी दौरों से भी पार पाना होगा। हालहीं में जारी हुए भारतीय टीम के 2018 के पूरे कार्यक्रम के अनुसार,

अंतराष्ट्रीय श्रृंखलाएँ

1) भारत और दक्षिण अफ्रीका (5 जनवरी से 24 फरवरी)
          3 टेस्ट, 6 वनडे, 3 टी-20

2) निदहास ट्रॉफी (11 मार्च से 20 मार्च)
           त्रिकोणीय श्रृंखला (भारत, श्रीलंका, बांग्लादेश)

3) भारत और इंग्लैंड (11 जुलाई से 11 सितंबर) 
           3 वनडे, 3 टी-20, 5 टेस्ट

4) एशिया कप

5) भारत और ऑस्ट्रेलिया

हालांकि अभी तक कुछ दौरों की तारीखों का ऐलान अभी तक नहीं हुआ है, लेकिन यह स्पष्ट रूप से कहा जा सकता है कि भारतीय टीम के लिए यह साल बहुत ही मुश्किलात से भरा हुआ है।