FIFA World Cup: ब्राजील के लिए ये है बड़ा खतरा

07

फुटबॉल के महाकुंभ 'फीफा वर्ल्ड कप 2018' का आयोजन रूस के 11 शहरों में 14 जून से 15 जुलाई के बीच किया जाएगा। इसके शुरुआत में अब कुछ दिन ही बचे हैं। टूर्नामेंट में इस साल 32 टीमें हिस्सा ले रही हैं और उन्हें 8 ग्रुप में रखा गया है। फीफा विश्व कप 2018 में ग्रुप ई में ब्राजील जैसी स्टार और पांच बार की चैंपियन टीम है। इस ग्रुप में ब्राजील के अलावा स्विट्जरलैंड, कोस्टारिका और सर्बिया की टीमें भी हैं। इस साल ब्राजील की टीम को ग्रुप में बड़े उलटफेर होने का सबसे ज्यादा खतरा है। इस ग्रुप को 'ग्रुप ऑफ डेथ' कहा जा रहा है। ये नाम उस ग्रुप को दिया जाता है, जिसकी सभी टीमें मजबूत हों। देखें इस ग्रुप की किस टीम में क्या है खास...

ब्राजील - ब्राजील ऐसी टीम है जिसने सबसे ज्यादा बार फीफा विश्व कप का खिताब अपने नाम किया है। 5 बार खिताब अपने नाम करने वाली ब्राजील चार साल पहले की कड़वी यादों को भुलाकर 16 साल का खिताबी सूखा खत्म करना चाहेगी। उसने आखिरी बार 2002 में खिताब जीता था, जबकि पिछले वर्ल्ड कप में सेमीफाइनल मुकाबले में जर्मनी से हारकर बाहर होना पड़ा था। अब तक सभी फीफा विश्व कप खेलने वाली ब्राजील टीम की रैंकिंग 2 और वो इस ग्रुप में सबसे बेहतर रैंकिंग वाली टीम है। सितारों से सजी इस टीम के स्टार खिलाड़ी 26 साल के नेमार हैं। टीम में नेमार के अलावा कोटिन्हो, पोलिन्हो, ग्रैब्रियल जीसस, फर्मिनो जैसे कई दिग्गज भी हैं। यदि कोई उलटफेर न हुआ तो ब्राजील का अंतिम-16 तक का रास्ता आसान नजर आता है।

कोस्टारिका - साल 2014 के फीफा विश्व कप में उरुग्वे और इटली जैसी बड़ी टीमों को मात देते हुए कोस्टारिका की टीम ने सनसनी फैला दी थी। कोस्टारिका की टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया था, लेकिन उसे हालैंड ने पेनाल्टी शूटआउट में हरा दिया था। फीफा रैंकिंग में 25वें नंबर पर मौजूद कोस्टारिका की टीम ने इससे पहले चार बार फीफा वर्ल्ड कप के लिए क्वालिफाई किया है, लेकिन अब तक एक भी खिताब नहीं जीत पाई है। टीम के स्टार खिलाड़ियों की बात करें तो केलोर नावास, जोएल कैम्पबेल, ब्रायन रूईज और ब्रायन ओविएडो हैं, जो विपक्षी टीम पर भारी पड़ सकते हैं। इस बार ऑस्कर रेमिरेज को कोच बनाया गया है।

स्विट्जरलैंड - फीफा विश्व कप 2018 के ग्रुप ई में स्विट्जरलैंड की टीम ने भी जगह बनाई है। फीफा रैंकिंग में 06 नंबर पर काबिज स्विट्जरलैंड टीम के लिए विश्व कप इतिहास कुछ खास नहीं रहा है। इतिहास गवाह है, 1954 के बाद विश्व कप जैसे बड़े स्टेज पर स्विस टीम असफल ही रही है। टीम ने इससे पहले 10 बार फीफा विश्व कप के लिए क्वालिफाई किया है, लेकिन उसने एक बार भी खिताब अपने नाम नहीं किया है। टीम के स्टार खिलाड़ियों की बात करें तो हैरिस सेफेरोविच, शेरदान शाकिरी और ग्रेनिट जाका जैसे बड़े नाम शामिल हैं, जो किसी भी मौके पर मैच में उलटफेर कर सकते हैं।

सर्बिया - फीफा वर्ल्ड कप में सर्बिया ने आठ साल बाद क्वालिफाई किया यानि उसने आखिरी बार साल 2010 में विश्व कप खेला था। अब तक 11 बार फीफा वर्ल्ड कप खेलने वाली सर्बिया टीम ने एक बार भी खिताब अपने नाम नहीं किया है। टीम की मौजूदा फीफा रैंकिंग 35 है। क्वालिफाइंग दौर में टीम ने कुल 20 गोल किए थे और शानदार प्रदर्शन के बदौलत विश्व कप में जगह बनाई थी। टीम के स्टार खिलाड़ी की बात करें तो इस बार अलेक्जेंडर मितरोविच पर सभी की नजरें होंगी, जिन्होंने क्वालिफाइंग राउंड में छह गोल दागे थे। इसके अलावा चेल्सी के पूर्व स्टार ब्रानिसलाव इवानोविच पर टीम को भरोसा है, वहीं नेमांजा मैटिच भी उलटफेर कर सकते हैं। टीम अस्थायी कोच म्लादान क्रासतैजिक के साथ अपना अभियान शुरू करेगी।