असली घमासान अब, फाइनल खेल चुकी हैं छह टीमें

07

नई दिल्ली। भारतमें पहली बार आयोजित फीफा अंडर-17 विश्वकप फुटबाल टूर्नामेंट में अब असली घमासान होगा। ग्रुप-चरण के बाद अब टॉप-16 टीमें नॉकआउट के लिए तैयार हैं। खास बात यह है कि इसमें से छह टीमें पहले चैंपियन रह चुकी हैं। सोमवार को नई दिल्ली जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में जर्मनी का मुकाबला कोलंबिया से और पराग्वे का यूएसए से होगा। ग्रुप चरण में तीनों मैच जीतने वाली पराग्वे का यूएसए के खिलाफ पलड़ा थोड़ा भारी रह सकता है। पराग्वे ने तीन राउंड रोबिन मैच में 10 गोल किए थे। न्यूजीलैंड के खिलाफ पराग्वे ने वापसी करते हुए जीत दर्ज की थी जबकि तुर्की और माली को एकतरफा हराया था। दूसरी ओर यूएसए को कोलंबिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। यूएसए ने भारत के खिलाफ 3-0 से जीत के साथ शुरुआत की थी। इसके बाद घाना को संघर्षपूर्ण मुकाबले में पराजित किया था। इसके बावजूद पराग्वे की टीम यूएसए के हल्के में नहीं ले सकती। नॉकआउट को पहला मुकाबला जर्मनी और कोलंबिया के बीच खेला जाएगा। यह मुकाबला एक तरह से यूरोपियन पावरहाउस और हर मैच के साथ बेहतर प्रदर्शन करती रही दक्षिण अमेरिकी टीम के बीच है। चार बार की विश्व चैंपियन का वैसे इस टूर्नामेंट में प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा है। वह 4 बार सेमीफाइनल में पहुंची है। बेस्ट प्रदर्शन 1985 में था जब रनरअप रही थी। वहीं कोलंबिया निसंदेह दक्षिण अमेरिका की बड़ी फुटबॉल टीम है लेकिन कभी की विश्व खिताब जीतने में सफल नहीं रही है।