मुश्ताक अली ट्रॉफी और रणजी ट्रॉफी का प्रस्तावित शेड्यूल

07

कोरोना संक्रमण से देश में स्थितियां और ज्यादा न बिगड़ीं तो बीसीसीआई अपने घरेलू सत्र की शुरुआत नवम्बर से कर सकता है। एनसीए प्रमुख और धुरंधर बल्लेबाज रहे राहुल द्रविड़ की अगुवाई में एक समिति ने घरेलू क्रिकेट के नए सत्र का कार्यक्रम तैयार किया है। इस कार्यक्रम को उसने बीसीसीआई को सौंपा है। बीसीसीआई फिलहाल कोरोना संक्रमण को देखते हुए पूरे ऐतिहात और बचाव के साथ घरेलू सत्र शुरू करने का ऐलान कर सकता है।

बीसीसीआई मानता है कि नवम्बर से कोरोना महामारी से उपजी स्थिति सामान्य होनी शुरू होगी। ऐसे में वह आईपीएल के बाद दुनिया की सबसे बड़ी घरेलू क्रिकेट प्रतियोगिता रणजी ट्रॉफी के अलावा मुश्ताक अली ट्रॉफी का आयोजन कर सकता है। इसके लिए उसने संभावित समय भी निर्धारित कर दिया है। प्रस्तावित कार्यक्रम के मुताबिक मुश्ताक अली 19 नवम्बर और रणजी ट्रॉफी सात दिसम्बर से शुरू कराई जा सकती है। इसके अलावा विजय हजारे, देवधर ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी इस साल नहीं कराने का फैसला किया जा सकता है।

रणजी ट्रॉफी में होंगे इस बार 136 मैच
अमूमन देश की घरेलू क्रिकेट का सत्र सितम्बर से शुरू हो जाता है। रणजी ट्रॉफी  के इस सत्र में 136 मैच खेले जाएंगे। पिछले सत्र में 169 मैच खेले गए थे।  कोरोना संक्रमण को देखते हुए खिलाड़ियों, ऑफीशियल्स को यात्रा से बचाने के लिए हर ग्रुप के मुकाबले दो शहरों के चार मैदानों पर खेले जाएंगे। टीमों को पांच ग्रुप में बांटा जाएगा। ग्रुप ए,बी, और सी में आठ-आठ टीमें होंगी। ग्रुप-डी में छह से आठ टीमें तक होंगी। ग्रुप-ई में पूर्वोत्तर की सभी छह टीमें होंगी। ग्रुप ए,बी और सी से दो टीमें नॉकआउट दौर के लिए क्वालीफाई करेंगी। ग्रुप-डी और ग्रुप-ई की विजेता टीमें आपस में प्री-क्वार्टर फाइनल में भिड़ेंगी।

सीज़न में 136 मैचों को देखेगा, पिछले एक की तुलना में 33 कम। इसके बजाय, टूर्नामेंट के दौरान यात्रा से बचने के लिए, प्रत्येक समूह के मैच दो शहरों में चार मैदानों पर खेले जाएंगे। टीमों को पांच समूहों में विभाजित किया गया है। ग्रुप ए, बी और सी में आठ टीमें शामिल होंगी, जबकि ग्रुप डी में छह, सात या आठ टीमें शामिल होंगी। ग्रुप ए, बी और सी में शीर्ष दो टीमें नॉकआउट के लिए क्वालीफाई करेंगी। तेरह दिसम्बर को लीग शुरू करने और 10 मार्च का फाइनल कराने पर विचार किया जा  रहा है।

मुश्ताक अली में 38 टीमें
ट्वेंटी-20 क्रिकेट की घरेलू क्रिकेट प्रतियोगिता मुश्ताक अली ट्रॉफी 19 नवम्बर से सात दिसम्बर तक आयोजित करने पर विचार किया जा रहा  है। मुश्ताक अली ट्रॉफी में 38 टीमें हिस्सा लेंगी। इन टीमों को छह ग्रुप में रखा जाएगा। हर ग्रुप के मैच एक शहर के दो मैदानों पर होंगे। इस बार पिछले सत्र की तुलना में 40 मैच कम देखने को मिलेंगे. यानी 109 मैच खेले जाएंगे।

जूनियर क्रिकेट क्षेत्रीय आधार पर
कोरोना संक्रमण को देखते हुए पूरे ऐतिहात के साथ जूनियर क्रिकेट का सत्र पहली नवम्बर से शुरू करने की योजना बनाई गई है। खिलाड़ी यात्रा से बचें और स्वस्थ रहें इसके लिए जूनियर जोनल आधार पर खेला जाएगा। सीके नायडू (अंडर -23 ट्रॉफी) 15 दिसंबर से 9 मार्च तक, कूच बिहार ट्रॉफी , 1 नवंबर से 22 जनवरी तक और विजय मर्चेंट ट्रॉफी, 1 नवंबर से 7 जनवरी तक आयोजित कराई जा सकती है।

महिला क्रिकेट :
महिला क्रिकेट का घरेलू सत्र भी शुरू होगा। इसमें लीग और विभिन्न आयु वर्गों की प्रतियोगिताएं शामिल हैं। महिला एक दिवसीय क्रिकेट लीग 17 मार्च से 12 अप्रैल 2021 तक, ट्वेंटी-20 लीग पहली से 20 नवम्बर, अण्डर-23 एकदिवसीय लीग 30 नवम्बर से 23 दिसम्बर तक, अण्डर-23 ट्वेंटी-20 लीग 27 जनवरी से 15 फरवरी 2021 तक, अण्डर-10 एकदिवसीय लीग 20 दिसम्बर से 21 जनवरी तक तथा अण्डर-19 ट्वेंटी-20 लीग 21 फरवरी से 11 मार्च तक आयोजित करने का प्रस्ताव है।