दिव्या ने गोल्ड पर लगाया निशाना

07

फरीदाबाद हिसार निवासी तीरंदाज दिव्या धायल ने 37वीं आर्चरी चैंपियनशिप में मंगलवार को बड़ा उलटफेर करते हुए प्रदेश का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया। सेक्टर-12 हूडा ग्राउंड में चल रही प्रतियोगिता में दिव्या ने कंपाउंड राउंड के विमिन के 50 प्लस 50 मीटर इवेंट में 672 अंक अर्जित कर गोल्ड मेडल हासिल किया। वहीं ऑल इंडिया पुलिस की दीपमाला ने भी 672 अंक हासिल किए, लेकिन दिव्या के मुकाबले सेंटर पॉइंट को दूर से हिट करने की वजह से उन्हें सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा। इसी इवेंट में रेलवे की मंजूदासोय ने 661 अंक हासिल कर ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया। 

रिकर्व राउंड के डबल 70 इवेंट में झारखंड की अंकिता दूसरे और असम की प्रोमिला ने तीसरे स्थान पर आकर बड़ा उलट फेर किया है। इन युवा तीरंदाजों ने रियो ओलिंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करने वाली तीरंदाज बोमिला देवी, लक्ष्मी रानी मांझी की मौजूदगी में मेडल पर निशाना लगाकर इंटरनैशनल के लिए कड़ी चुनौती पेश की है। बोमिला देवी और लक्ष्मी रानी मांझी ने स्वीकार किया कि नए तीरंदाजों से उन्हें कड़ी चुनौती मिलने वाली है। इस प्रतियोगिता में दीपिका ने पहला स्थान प्राप्त किया। रिकर्व राउंड के 70 प्लस 70 मीटर मेंस में चंडीगढ़ के कपिल ने 638 अंकों के साथ पहले, आरएसपीबी के धानीराम ने 637 अंक लेकर दूसरे और एसएससीबी के गुरचरण बेसरा ने 634 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

रिकर्व वर्ग (पुरुष) में चंडीगढ़ के कपिल ने 631 अंक हासिल कर स्वर्ण जबकि आरएसपीबी के धनीराम ने 637 अंक लेकर रजत और एसएससीबी के गुरुचरण ने 631 अंक लेकर कांस्य पदक हासिल किया। वहीं इसी स्पर्धा के महिला वर्ग में झारखंड की दीपिका कुमारी ने 634 अंक लेकर स्वर्ण, झारखंड की अंकिता ने 623 अंकों के साथ रजत और असम की प्रोमिला ने 622 अंक लेकर कांस्य पदक हासिल किया। दिन के खेल के समापन के बाद विजेता खिलाड़ियों को उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने पदक देकर सम्मानित किया।  37वीं नेशनल तीरंदाजी प्रतियोगिता के 50 प्लस 50 मीटर की स्पर्धा में हरियाणा की दिव्या को मिला गोल्ड साथ में मुख्य अतिथि उद्योग मंत्री विपुल गोयल अन्य।