इस खिलाड़ी ने खटखटाया क्रिकेट टीम का दरवाजा

07

चेन्नई : बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज शाहबाज नदीम के पांच विकेटों के दम पर झारखंड ने गुरुवार को विजय हजारे ट्रॉफी के ग्रुप-सी के मैच में जम्मू एवं कश्मीर को 73 रनों से एक तरफा मात दी। जम्मू एवं कश्मीर के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पहले बल्लेबाजी करने उतरी झारखंड को 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 221 रनों पर ही रोक दिया, लेकिन उसके बल्लेबाज इस आसान से लक्ष्य को भी हासिल नहीं कर पाए और 42.2 ओवरों में 148 रनों पर ही ढेर हो गए। जम्मू एवं कश्मीर के सिर्फ पांच बल्लेबाज ही बमुश्किल दहाई के आंकड़े को छू पाए जिसमें से सबसे ज्यादा नाबाद 53 रन 11वें नंबर के बल्लेबाज मोहम्मद मुदासीर ने बनाए। उन्होंने 28 गेंदों की अपनी तेज तर्रार पारी में छह छक्के और दो चौके लगाए। मुदासीर के अलावा वसीम राजा ने 20, आमिर अजीज ने 17 रनों का योगदान दिया। इरफान पठान और शुभम इससे पहले, झारखंड की स्थिति भी ठीक नहीं थी। एक छोर से विकेट लगातार गिर रहे थे लेकिन अनुकूल रॉय दूसरे छोर पर खड़े होकर टीम का स्कोरबोर्ड चालू रखे हुए थे। अनुकूल ने 72 गेंदों में चार चौके और सात छक्कों की मदद से 96 रनों की नाबाद पारी खेली। उनके अलावा विराट सिंह ने 33 रन बनाए। 

इसी ग्रुप के एक अन्य मैच में तमिलनाडु ने असम को 130 रनों से करारी शिकस्त दी। तमिलनाडु ने पहले बल्लेबाजी करते हुए विजय शंकर की 129 रनों की शतकीय पारी और कप्तान बाबा इंद्रजीत तथा अभिनव मुकुंद के खेली गई क्रमश: 92 और 71 रनों की पारियों के दम पर 50 ओवरों में चार विकेट खोकर 334 रन बनाए थे। असम की टीम 44.1 ओवरों में 204 रनों पर ही ऑल आउट हो गई। उसके लिए रयान पराग ने 45, वासिकुर रहमान ने 43, गोकुल शर्मा ने 42 रनों की पारियां खेलीं। 

बल्लेबाज की विफलता से पहले असम को गेंदबाजों की असफलता का भी सामना करना पड़ा। तमिलनाडु की नारायण जगादीशन (37) और मुकुंद की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 82 रनों की साझेदारी की। इसके बाद इंद्रजीत और शंकर ने भी शतकीय साझेदारी को अंजाम दिया। दोनों ने तीसरे विकेट के लिए 208 रनों की साझेदारी की। शंकर ने 99 गेंदों की पारी में सात चौके और सात छक्के लगाए।इंद्रजीत ने 72 गेंदों में पांच चौके और तीन छक्कों की मदद से अर्धशतक जमाया। मुकुंद ने 78 गेंदों में आठ चौके लगाए। वहीं हरियाणा ने इस ग्रुप के एक अन्य मैच में राजस्थान को 147 रनों से हरा दिया। हरियाणा की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 49.2 ओवरों में 304 रन बनाए और फिर राजस्थान को उसके गेंदबाजों ने 46.4 ओवरों में 157 रनों से आगे नहीं जाने दिया। 

हरियाणा के लिए प्रमोद चंडीला ने 55 गेंदों में पांच चौके और सात छक्कों की मदद से 88 रनों की पारी खेली। वहीं चेतन्या बिश्नोई ने 89 गेंदों में चार चौकों की मदद से 43 रन बनाए। राजस्थान के लिए अभिमन्यू लांबा ने 46 रन बनाए जिसके लिए उन्होंने 67 गेंदों का सामना किया और छह चौके लगाए। उनके अलावा कोई और बल्लेबाज विकेट पर पैर नहीं जमा सका।