दीपक पूनिया जूनियर विश्व चैंपियनशिप पहलवान बने

07

नई दिल्ली पहलवान दीपक पूनिया ने बुधवार को जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया। उन्होंने एस्तोनिया में रूस के एलिक शेबजुखोव को हराकर गोल्ड मेडल जीता। 86 किलोग्राम फ्रीस्टाइल कुश्ती इवेंट में उन्होंने यह खिताब जीता। 2018 में उन्होंने इस कैटिगरी में सिल्वर मेडल जीता था। वह 18 साल में इस चैंपियनशिप में गोल्ड जीतने वाले पहले भारतीय पहलवान है। पुरुषों के फ्रीस्टाइल वर्ग में 86 किलो में स्कोर 2-2 से बराबर था लेकिन आखिरी अंक बनाने के कारण पूनिया को विजयी घोषित किया गया। इससे पहले 2001 में रमेश कुमार (69 किलो) और पलविंदर सिंह चीमा (130 किलो) ने जूनियर विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था। वहीं 92 किलो वर्ग में विकी ने मंगोलिया के बात्मागनाइ एंखतुवशिन को 4-3 से हराकर ब्रॉन्ज मेडल जीता। दीपक की जीत पर भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया ने टि्वटर पर बधाई दी। पूनिया ने ट्वीट किया, 'दीपक पूनिया को गोल्ड और विकी को जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रॉन्ज मेडल जीतने पर बधाई। शाबाश... भविष्य के लिए आपको शुभकामनाएं।' 19 साल के पूनिया ने इसके साथ ही वर्ल्ड चैंपियनशिप के लिए सीनियर टीम में भी जगह बना ली है। वह कजाखस्तान में होने वाले इस टूर्नमेंट में 86 किलोग्राम भारवर्ग में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। यह टूर्नमेंट 14 से 22 सितंबर तक होगा। यह 2020 तोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वॉलिफायर भी होगा।