CWG 2018: रेसलिंग में भारत को मिले दो गोल्ड

07

गोल्ड कोस्ट में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ गेम्स के 8वें दिन भारत ने रेसलिंग में मेडल्स की झड़ी लगा दी। रेसलिंग से भारत ने कुल 4 मेडल जीते, जिसमें दो गोल्ड मेडल, एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज मेडल है। सुशील कुमार और राहुल अवारे ने गोल्ड जीता तो बबीता कुमारी फोगट ने सिल्वर मेडल अपने नाम किया, वहीं किरन ने ब्रॉन्ज मेडल भारत को दिलाया।

सुशील कुमार ने पुरुषों के 74 किलोग्राम फ्री स्टाइल वर्ग में दक्षिण अफ्रीका के पहलवान जोहानीस बोथा को हराकर गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने अपने प्रतिद्ंवदी को मात्र 80 सेकेंड में हरा दिया। टेक्निकल सुपरियरटी के आधार पर सुशील कुमार ने ये शानदार जीत हासिल की। उन्होंने खेल शुरु होते ही 10 प्वाइंट हासिल कर स्वर्ण पदक पक्का कर लिया। सुशील कुमार ने लगातार तीसरी बार कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता है।वहीं पुरुषों की 57 किलोग्राम वर्ग कैटेगरी में राहुल अवारे ने स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने फाइनल मुकाबले में कनाडा के स्टीवन ताकाहाशी को 15-7 से शिकस्त दी। राहुल ने पहले ही मिनट में दो अंक हासिल कर बढ़त बना ली लेकिन कनाडा के पहलवान ने पलटवार करते हुए 4 अंक लेकर 2 अंक की बढ़त ले ली।  इसके बाद राहुल ने बेहतरीन खेल दिखाया और बढ़त बनाकर स्टीवन को आगे आने का मौका नहीं दिया और गोल्ड मेडल जीत लिया।न इस दौरान राहुल को चोट भी लगी लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी।

इसके अलावा बबीता कुमारी ने महिलाओं की 53 किलोग्राम कैटेगरी में सिल्वर मेडल जीता। फाइनल मुकाबले में उन्हें कनाडा की पहलवान डियाना वीकर के खिलाफ 2-5 से हार का सामना करना पड़ा और रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा।

वहीं महिलाओं की 76 किलोग्राम वर्ग कैटेगरी में भारत की पहलवान किरण ने ब्रॉन्ज मेडल जीता। ब्रॉन्ज मेडल के लिए उनका मुकाबला मॉरीशस की पहलवान से था लेकिन किरण ने पहले ही पीरियड में 10 प्वाइन्ट हासिल करके टेक्निकल सुपरीयिरिटी के आधार पर मुकाबला जीत लिया।वहीं भारत को एक और मेडल आज निशानेबाजी से मिला। तेजस्विनी सावंत ने 50 मीटर राइफल प्रतिस्पर्धा में 618.9 के स्कोर के साथ सिल्वर मेडल जीता। इस स्पर्धा में सिंगापुर की लिंडसे वेलोसो ने 621.0 का स्कोर करते हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया। वहीं रजत पदक स्कॉटलैंड की सेओनइड मैक्इनटोश ने जीता।

वहीं वुमेंस डिस्कस थ्रो में सीमा पूनिया ने रजत पदक अपने नाम किया। 60.41 के स्कोर के साथ पूनिया ने दूसरा स्थान हासिल किया और सिल्वर मेडल जीता। ऑस्ट्रेलिया की डेनी स्टीवंस ने 68.26 के स्कोर के साथ गोल्ड मेडल जीता, वहीं भारत की नवजीत ढिल्लो ने 57.43 के स्कोर के साथ कांस्य पदक जीता।