बजट 2018: खेलों के लिए इस साल 258 करोड़ ज्यादा मिलेंगे

07

वित्त मंत्री अरुण जेटली की ओर से पेश किए गए बजट में खेल मंत्रालय को पिछले साल की तुलना में 258.2 करोड़ रुपये ज्यादा आवंटित करने की पेशकश की गई। जेटली ने गुरुवार को साल 2017-18 के लिए लोकसभा में बजट पेश किया। पिछले साल के बजट में खेल मंत्रालय को 1938.16 करोड़ आवंटित किए गए थे जो इस साल बढ़कर 2196.36 करोड़ कर दिया गया। यह बढ़ोतरी उस समय की गई है जब भारतीय एथलीट इस साल होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स की तैयारी में जुटे हैं। 

पेश किए गए बजट में हालांकि इस बात का स्पष्ट उल्लेख नहीं है कि एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स की तैयारियों में जुटे एथलीटों के लिए क्या योजना है। वित्त मंत्री ने वैसे विभिन्न राष्ट्रीय खेल महासंघों (एनएसएफ) के लिए पिछले साल की तुलना में 40 करोड़ ज्यादा आवंटित करने की घोषणा की।

भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) की फंडिंग में कटौती की गई है। पिछले साल साई के लिए 495.73 करोड़ आवंटित किए गए थे जो इस साल 66.17 करोड़ घटकर 429.56 करोड़ रह जाएगी।

बजट के अनुसार इस साल सबसे अधिक राशि सरकार के कार्यक्रम 'खेलो इंडिया' प्रोजेक्ट के लिए जारी की जाएगी। इस प्रोजेक्ट के लिए सरकार ने 520.09 करोड़ रुपये जारी करने का फैसला किया है जो पिछले साल 350 करोड़ तक सीमित था। यही नहीं, इस बार के खेल बजट की 23.67 फीसदी राशि 'खेलो इंडिया' के नाम है।

जम्मू-कश्मीर में खेलों को बढ़ावा देने के लिए आवंटित राशि में कटौती हुई है। पिछले साल के 75 करोड़ से घटाकर इसे 50 करोड़ कर दिया गया है।