एमएस धोनी को फेयरवेल मैच देने की BCCI कर रहा तैयारी

07

भारत के सबसे सफल कप्तानों में से एक महेंद्र सिंह धोनी इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं। उन्होंने 15 अगस्त की शाम को इंस्टाग्राम पर अपना फेवरेट गाना शेयर कर ऐलान कर दिया। उन्होंने कैप्शन में लिखा कि अब तक आपके प्यार और सहयोग के लिए धन्यवाद। शाम सात बजकर 29 मिनट से मुझे रिटायर्ड समझिए। आईसीसी की तीनों ट्रॉफी पर कब्जा करने वाले दुनिया के एकमात्र कप्तान धोनी के संन्यास से उनके हर फैन्स को काफी मायूसी हुई। हर कोई उनकी यादगार विदाई की उम्मीद कर रहा था। अब एक रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई भी चाहता कि धोनी को फेयरवेल मैच मिले और इसके लिए बोर्ड विचार कर रहा है।बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा है कि फिलहाल कोई अंतरराष्ट्रीय सीरीज नहीं हो रही है। ऐसे में आईपीएल के आयोजन के बाद हम देखेंगे कि क्या किया जा सकता है क्योंकि धोनी ने देश के लिए बहुत कुछ किया है और वह इस सम्मान के हकदार हैं। हम हमेशा उनके लिए एक फेयरवेल मैच चाहते थे, लेकिन धोनी एक अलग खिलाड़ी हैं। जब उन्होंने अपने संन्यास की घोषणा की तो किसी ने भी इसके बारे में सोचा नहीं था।आगे यह पूछे जाने पर कि पूर्व कप्तान ने अब तक इस बारे में कुछ भी कहा है, तो अधिकारी ने कहा कि नहीं। लेकिन निश्चित रूप से हम आईपीएल के दौरान उनसे बात करेंगे और मैच या सीरीज के बारे में उनकी राय लेने के लिए यह सही जगह होगी। खैर, उनके लिए एक उचित सम्मान समारोह होगा चाहे वह इस पर सहमत हों या न हों। उन्हें सम्मानित करना हमारे लिए सम्मान की बात होगी।

39 साल के धोनी ने 2004 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण करने के बाद 350 वनडे, 90 टेस्ट और 98 टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले हैं। उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने आईसीसी की तीनों ट्रॉफियां अपने नाम की हैं। इसके अलावा टीम 2009 में पहली बार टेस्ट की सरताज बनी साथ ही टीम ने 2010 और 2016 में एशिया कप टूर्नामेंट में भी जीत हासिल की। 2008 में ऑस्ट्रेलिया में त्रिकोणीय सीरीज जीतने वाले धोनी पहले कप्तान बने थे।