एशिया कप फुटबॉल में भारत का इन देशों से होगा मुकाबला

07

अबुधाबी: संयुक्त अरब अमीरात में 2019 में होने वाले एशिया कप फुटबॉल टूर्नामेंट के क्वालिफायर के लिए भारत ने कमर कसना शुरु कर दी है। भारत को किर्गिस्तान, म्यांमार और मकाऊ के साथ ग्रुप ए में रखा गया है।

टूनार्मेंट में भारत का पहला मैच इस साल 28 मार्च को म्यांमार के खिलाफ होगा। 24 टीमों को चार-चार के छह ग्रुप में बांटा गया है और हर ग्रुप से शीर्ष दो टीमें संयुक्त अरब अमीरात में 2019 में होने वाले एशिया कप फुटबॉल टूनार्मेंट के लिए क्वालीफाई करेंगी। भारत ने पिछली बार 2011 में एशिया कप के लिए क्वालीफाई किया गया था जो दोहा में खेला गया था।

टूनार्मेंट में भारत को अपना दूसरा मैच 13 जून को किर्गिस्तान से (घर में), तीसरा मैच पांच सितंबर को मकाऊ से (बाहर), चौथा मैच 10 अक्टूबर को मकाऊ से (घर में), पांचवां मैच 14 नवंबर को म्यामांर से (घर में) और छठा मैच किर्गिस्तान से 27 मार्च 2018 को (बाहर) खेलना है।

संयुक्त अरब अमीरात में 2019 में होने वाले एशिया कप फुटबॉल टूर्नामेंट की शुरुआत 5 जनवरी से होगी। पहली बार इसमें एशिया की 24 टीमें हिस्सा लेंगी। एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) ने सोमवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि 28 दिनों तक चलने वाले इस टूर्नामेंट का आयोजन देश के आठ स्टेडियमों में किया जाएगा। एफसीने कहा कि उद्घाटन अबुधाबी के जाएद स्पोर्ट्स सिटी में किया जाएगा और इसका फाइनल 1 फरवरी को खेला जाएगा। टूर्नामेंट का आयोजन अबुधाबी के तीन स्टेडियम, दुबई और अल आईन के एक-एक तथा शारजाह के एक स्टेडियम में होगा।

गत वर्ष ऑस्ट्रेलिया में हुए इस विश्वकप में 16 टीमों ने भाग लिया था लेकिन इस बार इसे बढ़ाकर 24 टीमों का कर दिया गया है। इनमें गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया, चीन, इराक, ईरान, जापान, दक्षिण कोरिया, कतर, सऊदी अरब, सीरिया, थाईलैंड, उज्बेकिस्तान और मेजबान संयुक्त अरब अमीरात की टीमें इस टूर्नामेंट में अपनी पक्की कर चुकी हैं। एशियाई की इन 12 एलीट टीमों के साथ क्वालिफाइंग से आने वाली 12 अन्य टीमें जुड़ेंगी। 24 टीमों को चार-चार के छह ग्रुप में बांटा जाएगा। प्रत्येक ग्रुप की विजेता और उपविजेता टीमें फाइनल राउंड के लिए क्वालिफाई करेगी।