चैंपियन बनी फ्रांस पर डॉलर की बरसात, सोने की ट्रॉफी पर कब्जा

07

फीफा वर्ल्ड कप 2018 के फाइनल में फ्रांस ने क्रोएशिया को 4-2 से मात देकर दूसरी बार फुटबॉल वर्ल्ड कप अपने नाम किया है. फाइनल के बाद इनामों की बारिश हुई. चैंपियन फ्रांस को 38 मिलियन डॉलर (लगभग 260 करोड़ रुपए) की इनामी राशि और 18 कैरेट सोने की चमचमाती ट्रॉफी हासिल हुई.फाइनल में हारी क्रोएशिया की टीम 28 मिलियन डॉलर (लगभग 191 करोड़ रुपए) इनामी राशि की हकदार बनी. इसके अलावा तीसरे स्थान पर रही बेल्जियम की टीम को 24 मिलियन डॉलर (लगभग 164 करोड़ रुपए) का इनाम मिला जबकि चौथा स्थान हासिल करने वाली इंग्लैंड को 22 मिलियन डॉलर (लगभग 150 करोड़ रुपए) का प्राइज मनी मिला है.

प्राइज मनी

1. चैंपियन फ्रांस को मिला 38 मिलियन डॉलर (लगभग 260 करोड़ रुपए) का इनाम और 18 कैरेट सोने की चमचमाती ट्रॉफी

2. रनर्स-अप क्रोएशिया को मिला 28 मिलियन डॉलर (लगभग 191 करोड़ रुपए) का इनाम

3. तीसरे स्थान पर बेल्जियम को मिला 24 मिलियन डॉलर (लगभग 164 करोड़ रुपए) का इनाम

 

4. चौथे स्थान पर इंग्लैंड को मिला 22 मिलियन डॉलर (लगभग 150 करोड़ रुपए) का इनाम

इस बार फीफा वर्ल्ड कप 2018 में कुल इनामी राशि 79 करोड़ दस लाख डॉलर (791 मिलियन डॉलर यानी 53 अरब रुपये से अधिक) है, जो पिछली बार 2014 में ब्राजील में हुए वर्ल्ड कप से 40 प्रतिशत अधिक है. चैंपियन को मिलने वाली इनामी राशि पिछली बार से 30 लाख डॉलर अधिक है.

इनामी राशि के मामले में वर्ल्ड कप 2018 ने नया रिकॉर्ड कायम किया है. पिछली बार ब्राजील वर्ल्ड कप में कुल इनामी राशि 576 मिलियन डॉलर थी, जबकि 2010 में दक्षिण अफ्रीका में हुए टूर्नामेंट में यह रकम 420 मिलियन डॉलर थी.

स्पेन में 1982 में हुए वर्ल्ड कप में 20 मिलियन डॉलर, मैक्सिको में 1986 वर्ल्ड कप में 26 मिलियन डॉलर, इटली में 1994 वर्ल्ड कप में 54 मिलियन डॉलर, अमेरिका में 1994 में 71, फ्रांस में 1998 में 103 , दक्षिण कोरिया और जापान की संयुक्त मेजबानी में 2002 में हुए वर्ल्ड कप में 156.6 और जर्मनी में 2006 वर्ल्ड कप में 266 मिलियन डॉलर इनामी राशि थी.